हर दिन कुछ नया सिखने के लिए अभी Subscribe करें!

Sound Card क्या हैं? Sound Card का इस्तेमाल क्यों किया जाता हैं?

क्या आपको पता हैं की Sound Card क्या हैं? Sound Card का इस्तेमाल क्यों किया जाता हैं? यदि नही तो आज का यह Article आपके लिए काफी जानकारी पूर्ण हो सकता हैं. क्योंकि इस आर्टिकल में आपको Sound Card के बारे में हर प्रकार की जानकारी जैसे Sound Card History, Sound card काम कैसे करता हैं, Sound Card में Voice और Channels क्या होता हैं इत्यादि जानकारी मुहैया की जाएगी.

वैसे तो साउंड कार्ड को Sound Board या Audio Card भी कहा जाता हैं. असल में Sound Card एक Expansion Card या IC होता है जो किसी Device में Sound पैदा करने में मदद करता हैं जिसे Speaker और Headphones की मदद से सुना जा सकता हैं.

वैसे तो बिना Sound Card के भी एक Computer सही तरह से काम करता हैं लेकिन यदि आप Computer में Sound Card Install करते हैं तो Computer से आसानी से Sound को सुन सकते हो और Sound की Quality भी काफी हद तक बेहतर हो जाती हैं.

पहले के समय में Sound Card को अलग से लगाना पड़ता था लेकिन अब Digital ज़माने में यह पहले से ही Motherboard और Expansion Slot में Already Embedded होकर आता हैं इस वजह से इसे अलग से लगाने की ज़रूरत नही पड़ती हैं. 

अगर आपको Sound Card के प्रकार Sound Card कैसे काम करता हैं, Sound Card की history आदि के बारे में जानना हैं तो आपको यह Article Sound Card क्या हैं? इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता हैं? पूरा पढ़ना होगा क्योंकि इस आर्टिकल में Sound Card के विषय में पूरी जानकारी दी हैं जिससे आप आसानी से समझ सकें. 

तो चलिए शुरू करते हैं और Sound Card के बारे में जानते हैं उम्मीद करता हूँ की आपको यह Article पसंद आएं.

Sound Card क्या हैं? (What is Sound Card in Hindi?)

Sound Card एक Component होता हैं जो Computer के अन्दर स्थित होता हैं. यह Computer को Audio inputs और Output Capabilities Provide करता हैं. हर Sound Card में एक Analog Line Input और एक Stereo Line Output Connection होता हैं. इसमें Typically 3.5 MM Mini Jacks के Connectors होते हैं जिनका इस्तेमाल लगभग Headphones में किया जाता हैं.

Sound Card

कुछ Sound Card Digital Audio Input और Output को Support करते हैं जिसके लिए वह Standard TRS (Tip-Ring-Sleeve) Connection या Optical Audio Port का उपयोग करते हैं जैसे Toslink Connector.

ऐसे Sounds Cards जो एक Analog output को Support करते हैं इन Sound Card में एक Digital to Analog Converter होना बहुत ही जरुरी हैं यह Outgoing Signal को Digital से Analog में Convert करता हैं जिससें की Speakers को System के जरिए Play किया जा सकें.

ऐसे Sounds Cards जो एक Analog input को Support करते हैं इन Sound Card में एक Analog to Digital Converter होना बहुत ही जरुरी हैं यह Incoming Analog Signal को Digitalize करता हैं जिससें Computer उसें Process कर सकें.

कुछ Computers में Sound Card, Motherboard का एक हिस्सा होता हैं लेकिन कुछ Computers में यह PCI Slot में एक Actual Card के जैसे लगा होता हैं. अगर आपको अपने Computer में ज्यादा Capabilities चाहिए जैसे Additional Input और Output Channels तो ऐसे में आपको एक नया Sound CardInstall करना पड़ेगा.

Sound Card की History

पहले ज़माने में Computers में Sound Card नही था क्यूंकि उस समय Computers को basic task के लिए बनाया गया था जिस वजह से Sound Card को इतना Important नही माना जाता था. लेकिन पुरानें Devices में Sound Card के स्थान पर Basic Internal Speakers लगे हुए होते हैं जो Square Wave Audio Produce करते हैं.

जैसे जैसे Computers 1980 में Consumer Market में आने लगे और ज्यादा Complex होने लगे तब Manufactures को पता लगा की Computer में Advance Application और General Entertainment के लिए Sound पैदा करने के विषय में सोचना शुरू किया.

कुछ ही समय बाद IBM और बड़े बड़े Manufacturers, Sound Card Device को Manufacture करने में लगे जैसे Creative labs, जो उस समय में नयी Sound Card Technology पर काम करने वाली Company थी जिससें हम Computers में Voice, Music आदि को सुनने में सक्षम हो सकों.

1980 के ही अंत तक Markets में कुछ ऐसे भी Computers आने लगे थे जिसमें पहले से ही Built-In-Sound-Card लगे हुए थे. लेकिन शुरुवाती दौर में यह Sound Card सिर्फ कुछ Specific Application पर ही Focused रहते थें. जो की खासकर Music Composition और Speech Synthesis के लिए बनाये थें.

जैसे जैसे Technology बढती गयी ठीक वैसे ही Sound Card भी धीरे धीरे Versatile होते गए और धीरे-धीरे बहुत सारें Software में इसका उपयोग किया जाने लगा.

सबसे पहला Sound Card किसने बनाया था? क्या नाम था और इसका इस्तेमाल कहाँ किया गया था?

ऐसा माना जाता हैं की सबसे पहला Sound Card, Sherwin Gooch के द्वारा सन 1972 में Invent किया गया था जिसका नाम Gooch Synthetic Woodwind रखा गया था इसको PLATO Terminal के द्वारा इस्तेमाल किया जाता था यह एक synthesizer था जो 4 Voice Music Voice को Synthesize करने में Capable होता था.

Apple II Computer भी Plug-in Sound Card को इस्तेमाल करने में Capable था. Apple Music Synthesizer पहला Plugin Sound Card था जिसें Apple II Computer में इस्तेमाल किया गया था जिसें ALF Products Inc. नाम की Company ने 1978 में Develop किया गया था.

AdLib नाम की पहली Company थी जो IBM PC के लिए Sound Card Manufacture करती थी AdLib ने सबसे पहले 1987 में Music Synthesizer ओ Card को Develop किया था.

Computer Sound Card का उपयोग कहाँ-कहाँ किया जाता हैं?

जिस प्रकार हर वस्तु का कही न कही उपयोग किया जाता हैं ठीक computer में Sound Card का भी उपयोग Computer के क्षेत्र में कई अलग-अलग जगह किया जाता हैं जो कुछ इस प्रकार हैं.

  • Games
  • Audio CD और Music सुनने के लिए
  • Movies देखने के लिए
  • Audio और Video Conferencing
  • Creating और Play MIDI
  • Voice Recognition में

इत्यादि और भी कई जगह इसका उपयोग किया जाता हैं.

Computer Sound Card काम कैसे करता हैं?

एक Computer में हर प्रकार की Information एक Code के रूप में Store होती है, वैसे ही Audio Files भी Code के रूप में Store होती हैं जिस वजह से यह Digital Information को बड़ी आसानी से बहुत सारी अलग-अलग Sound Waveforms में Store कर देती हैं. लेकिन यह Sound को Create नहीं कर सकती हैं क्योंकि Sound Create करने के लिए Analog Waves को Air में Spread करना पड़ेगा, और तभी Sound Create होगा जिसें हम सुन पायेंगे.

Sound Card

यह Sound Card जिस प्रकार से आपको जरुरत हैं ठीक उसी प्रकार Audio को Digital Code से Sound Waves में Translate करती हैं.

लेकिन ऐसा करने के लिए Sound Card, DAC (Digital to Analog Converter) का इस्तेमाल करती हैं. इस Converter का काम होता हैं Audio File Code को Electrical Impulses में translate करना जिससे यह Impulses, Sound Card के Connection के जरिये आपके Speakers तक Travel करती हैं.

बाद में इन Speakers के Driver उन Electrical Impulses को Physical Sound Waves में बदलते हैं जिसके बाद यह आवाज आपके कानों को सुनाई पड़ती हैं. लेकिन इसके लिए ध्यान से check करना होगा की Internal और External और दुसरें सभी Speakers ठीक प्रकार से Sound Card से connected होने चाहिए, अन्यथा यह ठीक से काम नही करेंगे.

अगर आपके Computer में Mic हो तो वह Mic भी Sound Card से जूडा हुआ होगा जिस वजह से Sound Card के सभी Function, Reverse में काम करेंगे. लेकिन ऐसे समय पर Sound Card, ADC (Analog to Digital Converter) का इस्तेमाल करता हैं. जब आप Mic के जरिये किसी प्रकार की Voice देते हैं तो वह Voice, Analog to Digital Converter के जरिये Sound Waves बन जाती है जिसके बाद यह Code के रूप में translate होकर एक Audio file बन जाती हैं.

VOICES और CHANNELS क्या होते हैं?

Sound Cards में Voices और Channels दोनों होते हैं, और दोनों को समझने में आपको थोड़ी Problem हो सकती हैं तो चलिए इनको आसानी से समझने का प्रयास करते हैं और जानते हैं की Voices और Channels क्या होते हैं.

Voices

Voices Refer करता हैं की Sound Card में बहुत सारें Independent Sounds जो Different-Different Sources से आते हैं जिन्हें Same time में कैसे Manage किया जाता हैं.

Manufacturers हमेशा Sound Card को एक साथ बहुत सारें Voices Provide करता हैं जिसका Hardware और Softwares Sources दोनों इस्तेमाल कर सकें. इसका Primary कारण यह हैं की Sound Card, Voices का इस्तेमाल करकें Electronic Music पैदा करता हैं.

पुरानें Sound Cards में Typically 18 Voices हुआ करती थी, लेकिन धीरे धीरे यह Numbers बढ़ते गए और अब जो Sound Card मिलते हैं उनमें तक़रीबन 64 Voices होती हैं जिसमें 32 Voices Software के लिए उपयोग में ली जाती हैं और 32 Voices Hardware के लिए उपयोग में ली जाती हैं.

Modern Sound Card Hardware Sources को बहुत ही कम Attention देती हैं उनका सबसे ज्यादा Main Focus Software Sources पर होता हैं ताकि वह जितनी चाहे उतनी Voice Produce कर सकें.

Channels

Channels एक तरह से Voices का अर्थ बयान करती है, Technically, Channels को Traditional Sense में इस्तेमाल किया जाना चाहिए, जिससे Sound Card, Audio Outputs को आसानी से Handle कर सकें.

Stereo Sound के 2 अलग Channels होते हैं. 2.1 Stereo एक Subwoofer को Allow करता हैं, 5.1 Channels यह Surround Sound को Include करता हैं, 7.1 Channels यह Best Surround Sound को Provide करता हैं.

मतलब की आपको एक ऐसा Sound Card लेना चाहिए जो कम से कम उतनी Channels को Support करता हो जितने की Audio System को जरुरत पड़ें ताकि वह Pair कर सकें.

Sound Card के Connections Details

अब में आपको Sound Card के Connection के विषय में कुछ ख़ास जानकारी प्रदान करने वाला हूँ. इसमें मैं आपको आपके Computer के पीछे लगे Sound Card के Audio Ports और Audio Jacks के Colors और Connection Symbols के बारें में बताने वाला हूँ तो चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं की Sound Card के Connection के बारें में.

Digital Out (White और Yellow Colors Words जैसे: “Digital Out”): – इसका इस्तेमाल Surround Sound या Loud Speakers के साथ किया जाता हैं.

Sound In या Line In (Blue Color, यह Arrow Point करता हैं Waves को): – इन्हें External Audio Sources के साथ Connect किया जाता हैं जैसे: CD Player, Recording Player, Tape Recorder.

Microphone या Mic (Pink Color): – यह Specially Microphone और Headphones के Connection को उपयोग करने के लिए होता हैं.

Sound Out या Line Out (Green Color, यह Arrow Point करता हैं Out of Waves को ): – यह Speakers और Headphones के लिए एक Primary Sound Connection होता हैं. इसके पास एक Black और एक Orange color का Sound Out Connector भी लगे होते हैं.

FireWire: – इन्हें कुछ High-Quality Sound Cards में Digital Video Cameras और दुसरें Devices में इस्तेमाल किया जाता हैं.

MIDI या Joystick (15 Pin Yellow Color connector): – इन्हें पुरानें Sound Card में MIDI Keyboard या Joystick के लिए इस्तेमाल किया जाता था.

Sound Card Description

Sound Card दिखने में एक Rectangular Piece का Hardware होता हैं जिसमें Cards के निचे बहुत सारें Contacts होते हैं और इसके साइड में Multiple Ports लगे होते हैं जिससें की आसानी से Audio device को Connect किया जाता हैं जैसे की Speakers.

यह Sound Card, Motherboard के एक PCI या PCIe Slot में install होता हैं.

Compatibility को ध्यान में रखते हुए Motherboard, Case, Peripheral को Design किया गया होता हैं, तभी तो Sound Card को जब Case के Back में Install किया जाता हैं तो इसका साइड वाला हिस्सा ठीक तरह से फिट होता हैं और इसी वजह से इसके Ports इस्तेमाल करने के लिए Available होते हैं.

Sound Card के प्रकार

वैसे तो बहुत सारें अलग-अलग प्रकार के Sound Card मौजूद हैं लेकिन उनमें से तीन प्रकार सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं और उनके अपने ही अलग-अलग Benefits हैं. जो कुछ इस प्रकार हैं:-

Motherboard Sound Chips

पुरानें समय में जब सबसे पहले Sound Card को Introduce किया गया था, तब यह बहुत कीमती Add-On Card हुआ करता था. उस समय यह बहुत ज्यादा कीमती हुआ करता था. लेकिन बाद में जैसे जैसे Computer Sound Technology की शुरुआत हुई वैसे ही इनकी कीमत भी कम होने लगी.

Miniaturization Technology ने सभी Technology जिससें Sound produce करने में इस्तेमाल करने में किया जाए उसे बस एक Single-Chip में तैयार करने के लिए Computer Hardware manufacturers को Enable किया.

आज के इस दौर में शायद ही आपको कोई ऐसा Computer देखने को मिल जाएँ जिसमें की Motherboard Sound Chip नही हो. Motherboard Sound Chips ने Computer Owners को Sound Card को ज्यादा Affordable बनाने में मदद की.

Standard Sound Card

Standard Sound Card एक तरह का Expansion Card होता हैं जो की Computer के भीतर एक Slots के साथ Connected होता हैं.

Standard Sound Card का Motherboard Sound Chips की तुलना में एक बहुत बड़ा Benefit यह भी होता हैं की Standard Sound Card की अलग से खुद की Processor Chips होती हैं लेकिन Motherboard Sound Card को किसी भी प्रकार के Function को Perform करने के लिए पूरी तरह से Computer के Processor पर निर्भर रहना पड़ता हैं.

Standard Sound Card, Main Processor के ऊपर बहुत ही कम Load पैदा करता हैं जिसके कारण आप आसानी से Game खेल सकते हो और Game में Performance काफी अच्छी होगी.

साथ ही Standard Sound Card में कुछ खास Features भी available होते हैं जो Motherboard Sound Chip में available नही होते हैं जैसे 24-bit Recording और Multiple Channels Surround Sound आदि.

External Sound Adapters

एक External Sound Adapters एक छोटा Box होता हैं जिसमें पहले से ही Standard Sound Card के सभी Features Enabled हैं, इसें एक USB Cable या FireWire port के ज़रिये Computer के साथ Connect किया जाता हैं. इसे Internal Expansion Slot के ज़रिये Connect नही किया जा सकता हैं.

External Sound Adapters में कुछ Features ऐसे भी होते हैं जो एक Standard Sound Cards में नही होते हैं, जैसे की Extra Inputs और Outputs के लिए Physical Volume Control Knobs.

एक External Sound Adapters को Standard Sound Card की तुलना में बड़ी आसानी से एक Computers से दुसरें Computers तक ले जाया जा सकता हैं.

एक अच्छा और Better Sound Card कैसे खरीदें?

अगर आप Sound Card खरदीने जा रहे हैं लेकिन आपको Idea नही है की किन-किन Specifications को ध्यान में रख कर Sound Card को खरीदना चाहिए तो चलिए जानते हैं की किन-किन Specifications को देख कर आप दो Sound Card को Compare कर सकते हो और अपने लिए एक Better Sound Card ले सकते हो.

Bit Depth

Bit Depth की Range 8 से 16 और 16 से 24 तक होती हैं.यह आपने सुना होगा और आपने देखा भी होगा लेकिन शायद आपको यह क्या होता है वो कभी समझ ही नही आया होगा.

Basically, Bit Depth उस Range को manage करता हैं जिसे आप सुनते हैं. 16-Bit Depth सबसे Low-Quality Sound Provide करता हैं वहीं 24-bit Depth की सबसे Perfect और Accurate Audio Provide करता हैं. High-Bit Depth होने से आपको यह फायदा होता हैं की आप अगर Low-Audio Quality को भी सुनते हैं तो यह Noise Floor और Ceiling को Low कर देती हैं जिससे आपको बेहतर सुनाई दे सकें.

मतलब की अगर आपकी Bit-Depth Low होगी तो आपकों Audio में Loud को कम करने में बहुत सारी Problem हो सकती हैं. इसलिए कोशिश कर्रें की High-Bit Depth वाला ही Sound Card खरीदें. 16 Minimum और 24 सबसे High-End bit depth होता हैं.

SNR (Sound-To-Noise Ratio)

SNR का फुल Form Sound-To-Noise Ratio होता हैं, जब भी आप Speakers को Plugged In करते हैं और Turn On करते है तो Background में आपको एक Buzzing Sound सुनाई देता होगा, उस Buzzing Sound की Noise को ही SNR कहते हैं, SNR जितनी ज्यादा High होगी, Background Noise उतनी ही कम या शांत होगी.

Sample Rate

Sample Rate को KHz में Measure किया जाता हैं. Sample Rate की Range 44.1 से लेकर 192 तक होती हैं. कुछ Audiophiles का यह भी मानना हैं की जितना ज्यादा High Numbers होगा उतना ही ज्यादा बेहतर होगा. लेकिन अगर आपके पास High-Class Hearing Equipment नहीं हैं तो आपको इसके अंतर का थोडा भी आभास नही होगा.

Normally Sample Rate 44/48 KHz एक Standard Number होता हैं. लेकिन अगर आप एक High-End Hardware का इस्तेमाल कर रहे हैं तब आप उस Sample Rate को बढ़ा भी सकतें हैं.

Audio Channels

Audio Channels Check करती हैं की कितनें Numbers of Speakers हैं और कितने Multi-Dimensional और Omni-Dimensional Headphones हैं. जितने ज्यादा Audio Channels होंगे उतने ही ज्यादा Direction से Sound आएगी और उसी के परिणामस्वरूप उतनी ही ज्यादा Accurate भी होगी.

अगर आप Normal user हैं तो आपके 2 Audio Channels पर्याप्त होगी लेकिन अगर आप Professional user हैं आपके पास Advance Speaker System/High-End Quality Headphones मौजूद हैं तो ऐसे में आपको ज्यादा Audio Channels की जरुरत पड़ेगी.

Sound Card की Common Problems क्या होती हैं? आप कैसे इसें Solve कर सकते हैं?

Mostly Sound Card की Common Problem Computer में Sound ना आने की ही होती हैं.

यह Problem हम में से हर किसी के साथ कभी न कभी तो जरुर होती हैं इसकी वजह कुछ भी हो सकती हैं जैसे Sound Card या Speakers/Headphones Disconnected हो गए हो या हो सकता है की उनके Ports एक दुसरे के साथ Communicate नही कर रहें हो या फिर हो सकता हैं की कोई Software उस Sound को Play करने से रोक रहा हो.

लेकिन उससें पहले यह देख ले की आपने जो Video, Audio, Movie Sound को Play किया है वो Mute तो नही कर रखा हैं क्योकि कई बार ऐसा भी होता हैं की Play होने पर by Default उसका Sound ही Mute होता हैं और हो सकता हैं की Device manager में Sound Card खुद ही Disable हो गया हो.

तो इन सब का आपको ध्यान रखना हैं और फिर आपको कोई Steps उठाना होगा.

अगर आपने Device Driver install नही कर रखा हैं या फिर Device Driver Corrupt हो गया हो तो ऐसे में आप सभी जरुरी Sound Card Driver को Internet से Download कर Install करें.

इन सभी को अगर आपने सही से Check किया होगा और सही से Software को Install किया होगा तो आपको Sound सुनने को मिल जाएगा.

क्या एक Sound Card को Upgrade किया जा सकता हैं?

आप किसी भी Sound Card को आसानी से बेहतर Quality वालें Sound Card से Replace किया जा सकता हैं. इसलिए यदि आप Sound Card को Upgrade करना चाहते हो तब आप आसानी से कर सकते हो.

वही Sound Hardware जो की Motherboard में Integrated होता हैं वह Replace नही किया जा सकता हैं परन्तु अगर आप Disable करना चाहे तो कर सकते हो, जिससे आप एक बेहतर PCI Sound में भी Switch कर सकते हैं.

Digital Sound Card से आप Audio की Clarity को बढ़ा सकते हो वही Advanced Sound Card से Audio को Improve कर सकते हो. इनका इस्तमाल कर आप CPU के load को कम कर सकते हो.

अगर आप ज्यादा Active Sound Management करना चाहते हैं तो कुछ ऐसे भी Outboard Sound Card भी मौजूद हैं जिनकों आप USB Port के जरिए Connect कर इस्तेमाल कर सकते हैं. अगर आप चाहे तो आप Internal Sound Card और Peripheral Version दोनों प्रकार के खरीद सकते हैं लेकिन उससे पहलें यह देखना पड़ेगा आपको की दोनों आपके Computer के साथ Compitable है की नही.

Sound Card के Benefit क्या-क्या हैं?

हर वस्तु का कुछ न कुछ Benefit तो जरुर होता हैं ठीक उसी प्रकार Sound Card के Benefit को भी जानना चाहते होंगे, Sound Card सिर्फ Sound की Quality को Boost करने के अलावा भी बहुत से अलग-अलग फायदें हैं. तो चलिए जानते हैं की Sound के Benefit क्या-क्या हैं?

1. यह ज्यादा Audio Channels को Support करता हैं जैसे 5.1 और 7.1 Audio Channels ज्यादा ports बेहतर Surround Sound Speaker System और Headphones में Directional Audio को Offer करते हैं.

2. ये सिस्टम में Better और ज्यादा Ports को Available करवाते थें, जो की पुरानें System में Available नही हुआ करते थें.

3. कुछ पुरानें System और CPUs में Sound Card भी CPU का कुछ Load अपने ऊपर ले लेते थे जिस वजह से वो Sound Processing को handle करने के लिए CPU पर Load नही डालते थें सब कुछ खुद ही कर लेते थें. लेकिन वही आजकल के Modern Hardware में इस Difference को Notice करना भी बहुत मुश्किल हैं.

4. किसी Electric Interface से यह Shield भी करते हैं. कई सारें High-End Sound Card एक better Shield भी Provide करते हैं, जिसकी मदद से दुसरें component में होने वालें Electrical Interface से इसें आसानी से रोका भी जा सकता हैं.

5. ज्यादा Better Accurate Sound Bass, बेहतर Sound और Directional Audio Provide करते हैं. अगर आप एक Low-End Board Sound Chip का इस्तेमाल करते हैं तो एक बार आप Sound Card का इस्तेमाल जरुर करें जिससें आपको इन दोनों में Difference बड़ी आसानी से पता लग जाएगा.

इस लेख में आपने Sound Card के बारें में पूरी जानकारी हांसिल कर ली हैं तो आप नया Sound Card भी अब Market जाकर आसानी से ला सकते हैं, तो अगर आपको यह Article पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और मित्रो के साथ जरुर share करें.

उम्मीद करता हु की आपको मेरी यह पोस्ट “Sound Card क्या हैं? Sound Card का इस्तेमाल क्यों किया जाता हैं?” पसंद आया होगा। अगर आपको इस Post से सम्बंधित किसी प्रकार का कोई भी प्रश्न पूछना है तो आप Comment के जरिये पूछ सकते हो। इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी जरूर Share करे!

आपको यह भी पढना चाहिए

लेखक: Rohit Bhatt

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »