ऐसी लड़की सुंदर हो तो भी नहीं करना शादी

2

Chanakya Niti – विवाह या शादी को जीवन का महत्वपूर्ण अंग माना जाता है क्योंकि इससे दो नए परिवार आपस में जुड़ते हैं। वर-वधू नए जीवन में बंध जाते हैं और जिंदगी भर साथ रहने की कसम खाते हैं । इन बंधनों से उनके नए जीवन की शुरुआत होती है।

ऐसी लड़की सुंदर हो तो भी नहीं करना शादी
ऐसी लड़की सुंदर हो तो भी नहीं करना शादी

इसलिए विवाह को हिंदू धर्म में सबसे महत्वपूर्ण अंग माना गया है । हर मनुष्य का विवाह अवश्य होता है लेकिन विवाह किस लड़की से करना चाहिए और किस लड़की से नहीं करना चाहिए इसके बारे में आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में बताया है । आइए जानते हैं चाणक्य क्या कहते हैं।

ऐसी लड़की सुंदर हो तो भी नहीं करना शादी

आचार्य चाणक्य कहते हैं समझदार मनुष्य वही है जो विवाह के लिए नारी की बाहरी सुंदरता ना देखते हुए मन की सुंदरता देखे। यदि वह उच्च कोटी की गुरु कन्या संस्कारिक हो तो उससे विवाह कर लेना चाहिए। यदि कोई सुंदर कन्या संस्कारी ना हो , अधार्मिक हो और उस कुल की हो जिसका चरित्र ठीक ना हो तो उससे किसी भी परिस्थिति में विवाह नहीं करना चाहिए।

आचार्य चाणक्य के अनुसार सबसे श्रेष्ठ और समझदार व्यक्ति वही है जो उच्च कुल में जन्म लेने वाली संस्कारी गुरु कन्या से विवाह कर लेता है। विवाह के बाद कन्या के गुण ही परिवार को आगे बढ़ाते हैं|

जबकि सुंदर नीच कुल में पैदा होने वाली कन्या विवाह के बाद परिवार को तोड़ देती है। ऐसी लड़कियों का स्वभाव और आचरण निम्न ही रहता है जबकि धार्मिक और ईश्वर में आस्था रखने वाली संसारी कन्या के आचार विचार भी शुद्ध होंगे जो एक श्रेष्ठ परिवार का निर्माण करने में सक्षम रहते हैं।

Enter Your Mail Address

2 COMMENTS

  1. Hi there! This is my first visit to your blog! We are a collection of volunteers and starting a new project in a community in the same niche. Your blog provided us valuable information to work on. You have done a outstanding job!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CommentLuv badge